ठंड में बाहर नहीं जा सकते हैं, तो घर में करें व्यायाम….

Spread the love

कड़कड़ाती ठंड में सुबह जल्दी उठकर ग्राउंड में जाकर व्यायाम करना हर किसी के बस की बात नहीं होती। ठंड के चलते अकसर लोग खुद को फिट नहीं रख पाते। नतीजतन वे बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। ऐसे में इंडोर एक्सरसाइज यानी घर के अंदर ही व्यायाम कर लेना ठीक रहता है। आप ऐसे व्यायामों की सहायता से खुद को चुस्त-दुरुस्त रख सकते हैं, जिनके बारे में जानकारी दे रहे हैं

एक मिनट में अच्छा कार्डियो चाहिए तो रस्सी कूद लीजिए। सर्दी के मौसम में यह बहुत ही कारगर व्यायाम है। रस्सी कूदने से आपका वजन नहीं बढ़ता और एब्स, जांघें मजबूत बनती हैं। अगर आप ठंड के मौसम में लगातार बढ़ते वजन से परेशान हैं तो रस्सी कूदना आपके लिए काफी फायदेमंद है। रस्सी कूदने से आपके स्टैमिना में बहुत जल्दी इजाफा होगा। रस्सी कूदना दिल के लिए सबसे अच्छा है। एक तरह से इसे कार्डियो एक्सरसाइज का सबसे अच्छा रूप कहा जा सकता है। जब आप रस्सी कूदते हैं, तो आपका हृदय तेजी से धड़कने लगता है। इस कारण आपके फेफड़ों में अधिक ऑक्सीजन जाने लगती है। इससे शरीर का तनाव कम होता है। यदि आप अपने शरीर को आकार देना चाहते हैं और एक ही समय में इसे टोन करते हैं तो रोजाना रस्सी कूदनी चाहिए, क्योंकि कोई अन्य व्यायाम इस तरह से सरल और फायदेमंद नहीं हो सकता। आप अगर रोजाना थोड़ी देर ही रस्सी कूदते हैं तो भी बिना जिम गए एकदम फिट रह सकते हैं।

पुश-अप :- पुश-अप शरीर को मजबूत बनाने वाला बढि़या व्यायाम है। इससे शरीर फिट रहता है। कंधे, सीने, कलाइयों और पैरों को मजबूती मिलती है। पुश-अप कहीं भी, कभी भी किए जा सकते हैं। यह व्यायाम किफायती भी है, क्योंकि इसे करने के लिए महंगे उपकरणों की जरूरत नहीं पड़ती। अधिकतर लोग गलत तरीके से पुश-अप करते हैं। व्यायाम शुरू करने वालों के लिए पुश-अप सबसे बेहतर है। खासतौर पर सर्दियों में इससे मसल्स स्ट्रेंथ बढ़ती है। पुश-अप करने से आपकी चेस्ट, अपर आर्म और शोल्डर्स पर काम होता है। इतना ही नहीं, इससे आपके एब्स और बैक पर भी काम होता है, लेकिन यह पुश-अप के प्रकार पर निर्भर करता है। मसल बनाने के लिए आपको कितने पुश-अप करने चाहिए, यह आपकी उम्र, फिटनेस लेवल और बॉडी टाइप पर निर्भर करता है। जैसे-जैसे आप मजबूत होते जाते हैं तो इसमें बदलाव होता रहता है।

अगर आपके घर के आस-पास टहलने की जगह नहीं है तो रोजाना 10 मिनट सीढ़ियां चढ़ने से आप अपने भीतर अधिक ताजगी महसूस कर सकते हैं। सीढ़ी-चढ़ाई विशेष रूप से उन लोगों के लिए उपयोगी होती है, जो शरीर के निचले हिस्से में कई मांसपेशियों के रूप में एक स्लिम बॉटम पाना चाहते हैं। इससे पैर की हड्डियां भी मजबूत और ठोस होती हैं। शुरू में सीढ़ियों पर चढ़ते हुए आपको थकान हो सकती है और आपकी सांस फूल सकती है, लेकिन धीरे-धीरे इसे लगातार करते रहने से आपको पता चल जाएगा कि आपके स्टैमिना में वृद्धि हुई है। घुटने की समस्या वाले लोगों को सीढ़ियों पर चढ़ने के लिए साफ मना किया जाता है, क्योंकि इससे स्थिति और बिगड़ सकती है। ऐसे लोग दूसरे विकल्पों को अपना सकते हैं और सर्दी के मौसम में भी व्यायाम का लाभ ले सकते हैं।

जंपिंग जैक : – सर्दी में शरीर को चुस्त व दुरुस्त बनाने के लिए जंपिंग जैक भी एक कारगर तरीका है। इसमें दोनों पैरों को पंजों के पास से जोड़ें और उन्हें खोलते हुए दोनों हाथ को ऊपर लेकर जाएं। एक से डेढ़ मिनट के तीन से चार सेट करने से शरीर की अच्छी खासी स्ट्रैचिंग हो जाती है। आप पंजों के बल पर खड़े होकर जंप भी कर सकते हैं। हाथ को मोड़कर ऊपर ले जाना है। इसके भी एक मिनट में तीन से चार सेट करने हैं। इससे पूरा शरीर वार्मअप होता है, साथ ही इससे स्टैमिना भी बढ़ता है। इसे ज्यादा देर तक करने से वजन भी कम होता है। जंपिंग जैक एक कार्डियो एक्सरसाइज है। इससे भी वजन नियंत्रित रहेगा। दिन में 10 मिनट जंपिंग जैक पर्याप्त है।

सर्दियों में मोटापे से ग्रसित ऐसे लोग, जिन्हें योग करना और जिम जाना बोरिंग लगता है, डांस के द्वारा मोटापे पर नियंत्रण पा सकते हैं। डांस करने से हमारा मनोरंजन होता है, साथ ही पूरे शरीर की कसरत हो जाती है। डांस का दिमाग पर भी प्रतिकूल असर होता है, जिससे मन प्रसन्नचित्त रहता है, क्योंकि आपको लगता है कि आपने जमकर मस्ती की है। जो लोग थोड़ी देर तक भी डांस करते हैं, उनको मोटापे की समस्या नहीं होती। जो लोग मोटे हैं, अगर रोज डांस करें तो मोटापे की समस्या से निजात पा सकते हैं। डांस फ्लोर पर कम से कम 5 मिनट डांस करने से शरीर की 30 कैलोरी बर्न हो जाती है। जो लोग कम उम्र में ही डांस करना शुरू कर देते हैं, उनको कम तनाव होता है। अगर आपको अच्छे तरीके से डांस करना नहीं आता है तो कोई बात नहीं। सबके सामने डांस करने में घबराहट होती है तो अकेले कमरे में अपने मनपसंद गाने को लगाकर डांस कीजिए।

हाई नीजहाई नीज : – अगर आपको दौड़ना पसंद है और दौड़ नहीं पा रहे हैं तो अपने घुटनों को अपनी नाक या सिर से छूने की कोशिश करें। इसको ही लगातार पैर को बदल-बदल कर करते रहें और व्यायाम के बीच-बीच में 10 सेकेंड का ब्रेक लेते रहें। इससे पैरों के अलावा हिप भी मजबूत होंगे, साथ ही आपके हार्ट में पम्पिंग बढ़ जाएगी। आप हाई नीज के साथ एयर स्क्वाट भी कर सकते हैं। इस व्यायाम के लिए अपने पैरों पर सीधे खड़े हो जाएं और अपने पूरे शरीर को एक दम सीधा कर लें। अब अपने घुटनों के बल कुर्सी की पोजीशन तक जाकर सीधे खड़े हो जाएं। इसे भी 2 मिनट तक करें। संभव है कि इससे आपके घुटनों में थोड़ा दर्द महसूस हो, लेकिन रुकें नहीं, चाहें 10 सेकेंड का ब्रेक ले लें, लेकिन 2 मिनट पूरा करके ही हटें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *