आरपीएफ अरुण कुमार ने रेलवे सुरक्षा बल कर्मियों को बढ़ी राहत प्रदान की….

Spread the love

दिल्ली। आरपीएफ के डायरेक्टर जनरल (डीजी) आरपीएफ अरुण कुमार ने रेलवे सुरक्षा बल कर्मियों को बढ़ी राहत प्रदान की है। इसके तहत आरपीएफ में आरक्षी से निरीक्षक तक होने वाली पदोन्नति प्रक्रिया में प्रेक्टिकल और पर्सनालिटी टेस्ट को बंद कर दिया है। दरअसल, पदोन्नति के लिए अब तक इस परीक्षा में चल रही उक्त प्रकिया से सुरक्षा कर्मियों को कई बार सफलता नही मिल पाती थी।

जानकारी जे मुताबिक रेल सुरक्षा बल में आरक्षी से निरीक्षक तक के पदों के लिए विभागीय पदोन्नति परीक्षाओं में अब प्रेक्टिकल व पर्सनेलिटी टेस्ट नहीं देना होगा। आरपीएफ के डायरेक्टर जनरल अरुण कुमार ने सभी जोन को मुख्य सुरक्षा आयुक्त को आदेश जारी कर दिया है। रेलवे सुरक्षा बल में कार्यरत जवानों के लिए एक राहत देने वाली खबर है। रेलवे बोर्ड ने कर्मचारियों के प्रमोशन से जुडे नियमों में बड़ा बदलाव किया है।

 

इसके तहत अब कांस्टेबल से इंस्पेक्टर (आईपीएफ) तक की पदोन्नति प्रक्रिया को सरल एवं अधिक पारदर्शी बना दिया गया है। इसके तहत अब किसी भी पद के लिए होने वाले प्रमोशन टेस्ट में से प्रेक्टिकल और पर्सनैलिटी चैक को खत्म कर दिया गया है। यानि अब अगर कोई कांस्टेबल से हैड कांस्टेबल, सब इंस्पेक्टर या इंस्पेक्टर के पद पर पदोन्नति परीक्षा में भाग लेता है तो चयन होने पर ना तो प्रेक्टिकल और ना ही पर्सनैलिटी चैक होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *